सर्वनाम किसे कहते है, सर्वनाम कि परिभाषा एवं भेद

WhatsApp Group Join Now
Telegram Group Join Now

सर्वनाम किसे कहते है (Sarvnam kise kahate Hai) :- नमस्कार दोस्तों इस पोस्ट के माधयम से आज हम बात करने वाले है हिंदी व्याकरण (Hindi Vyakran) के एक बहुत अच्छे टॉपिक के बारे में जो है सर्वनाम (Pronoun)। बहुत सी प्रतियोगी परीक्षाओ के लिए सर्वनाम बहुत ही महत्वपूर्ण टॉपिक है। इस पोस्ट के माध्यम से हम पढ़ेंगे की सर्वनाम किसे कहते है (Sarvnam kise kahate Hai) ,हिन्दी में सर्वनाम के कितने भेद है (Sarvnam ke kitne bhed hai)आदि के बारे में। तो आइये देखते है के बारे में एक छोटी सी जानकारी।

सर्वनाम किसे कहते है

“वह शब्द जो संज्ञा के बदले में आए उसे सर्वनाम कहते हैं।” जैसे – मैं , तुम , हम , वह , आप , उसका , उसकी , वह आदि। इसके शाब्दिक अर्थ को समझें तो यही प्रतीत होता है कि “ सबका नाम ” यह शब्द किसी व्यक्ति विशेष के द्वारा प्रयुक्त ना होकर सबके द्वारा प्रयुक्त होते हैं। किसी एक का नाम ना होकर सबका नाम होते हैं। मैं का प्रयोग सभी व्यक्ति अपने लिए करते हैं। अतः मैं किसी एक का नाम ना होकर सबका नाम है।

सर्वनाम की परिभाषा

सर्वनाम दो शब्दों के योग से बना है सर्व + नाम , अर्थात जो नाम सब के स्थान पर प्रयुक्त हो उसे सर्वनाम कहा जाता है।इस प्रकार हम संज्ञा के स्थान पर इस का प्रयोग कर सकते हैं।

सर्वनाम के भेद

हिंदी के मूल सर्वनाम 11 हैं => मैं, तू, आप, यह, वह, जो, सो, कौन, क्या, कोई, कुछ।

प्रयोग की दृष्टि से सर्वनाम के 6 प्रकार के भेद होते हैं । ये निम्नलिखित है :-

पुरूषवाचक सर्वनाम  मैं, तू, वह, हम, मैंने
निजवाचक सर्वनाम  आप
निश्चयवाचक सर्वनाम  यह, वह
अनिश्चयवाचक सर्वनाम  कोई, कुछ
संबंधवाचक सर्वनाम  जो, सो
प्रश्नवाचक सर्वनाम  कौन, क्या

पुरूषवाचक सर्वनाम ( Purush vachak sarvnam )

जो सर्वनाम शब्द वक्ता बोलने वाला व्यक्ति श्रोता सुनने वाला व्यक्ति अथवा जिसके विषय में कहा जाता है उसे पुरुषवाचक सर्वनाम कहते हैं: जैसे में, मेरा, मैंने

उदाहरण :-

उसने मुझे बोला था कि तुम गाना गा रही हो।

पुरुषवाचक सर्वनाम के भेद ( Purush vachak sarvnam ke bhed )

पुरुषवाचक सर्वनाम के भी तीन भेद होते हैं । ये निम्नलिखित है –

  1. उत्तमपुरुष
  2. मध्यम पुरुष
  3. अन्य पुरुष
  • उत्तमपुरुष:– जिन शब्दों का प्रयोग बोलने वाला अपने लिए करता है। उत्तमपुरुष में मैं, मेरा, मेरे, मेरी, मुझे, मुझको, हम, हमें, हमको, हमारा, हमारे, हमारी आदि शब्द आते हैं। जैसे कि:- मैं खाना खाता हूँ।
  • मध्यम पुरुष– जिन शब्दों का प्रयोग सुनने वाले के लिए किया जाता है। उन्हें मध्यम पुरुष सर्वनाम कहते हैं। इसमें तू, तुझे, तुझको, तेरा, तेरे, तेरी, तुम, तुम्हे, तुमको, तुम्हारा, तुम्हारे, तुम्हारी, आप आदि आते हैं। जैसे कि:- तुम कहा हो।
  • अन्य पुरुष– जिन शब्दों का प्रयोग किसी तीसरे व्यक्ति के बारे में बात करने के लिए होता है।उन्हें अन्य पुरुष सर्वनाम कहते हैं। इनमे यह, वह, ये, वे आदि आते हैं।

निजवाचक सर्वनाम ( Nij vachak sarvnam ) 

निजवाचक सर्वनाम के शब्दों का प्रयोग वक्ता किसी चीज़ को अपने साथ दर्शाने या फिर अपनी बताने के लिए करता है, उसे निजवाचक सर्वनाम कहते हैं।

उदाहरण:-

  • मैं अपनी पुस्तक को स्वयं ही खरीद लूँगा।
  • मैं सायकिल अपने आप ही सीख लूँगा।
    ऊपर बताए गए वाक्यों में वक्ता ने अपने स्वयं के लिए स्वयं और अपने आप शब्दों का प्रयोग कामों को खुद से जोड़ने के लिए किया।
    जहाँ “आप” शब्द का प्रयोग श्रोता के लिए हो वहाँ यह आदर-सूचक मध्यम पुरुष होता है और जहाँ “आप” शब्द का प्रयोग अपने खुद के लिए हो वहाँ निजवाचक होता है।

निश्चयवाचक सर्वनाम ( Nishchay vachak sarvnam )

जिन सर्वनाम शब्दों से किसी वस्तु, व्यक्ति या स्थान की निश्चितता का बोध होता है। उन शब्दों की निश्चयवाचक सर्वनाम कहते हैं।
जैसे कि – यह, वह आदि।
 उदाहरण :-

  • यह पुस्तक मेरी है।
  • वहकार उनकी है।

ऊपर बताए गए वाक्यों में यह, वह, ये, वे आदि का उपयोग वस्तु, व्यक्ति आदि की निश्चितता का बोध कराने के लिए किया गया है। इसलिए ये शब्द निश्चयवाचक सर्वनाम है।

अनिश्चयवाचक सर्वनाम ( Anishchay vachak sarvnam )

जिन सर्वनाम शब्दों से वस्तु, व्यक्ति, स्थान आदि की निश्चितता  का बोध नही होता है वहां अनिश्चयवाचक सर्वनाम होता हैं।
जैसे कि कुछ, कोई आदि।

उदाहरण:-

  • मुझे कुछ मिठा खाना है।
  • मेरे गाने में कुछ कमी है।
    ऊपर बताए गए सभी वाक्यों में वक्ता सिर्फ अंदाजा लगा रहा है। लेकिन हमे व्यक्ति की निश्चितता का कोई बोध नहीं हो रहा है। इसलिए कुछ, कोई आदि शब्द अनिश्चयवाचक सर्वनाम शब्द हैं।

प्रश्नवाचक सर्वनाम ( Prashna vachak sarvnam )

जिन शब्दों का प्रयोग किसी वस्तु, व्यक्ति आदि के बारे में कोई सवाल पूछने या फिर उसके बारे में जानने के लिए किया जाता है उस सर्वनाम शब्दों को प्रश्नवाचक सर्वनाम कहते हैं।
जैसे कि :- कौन, क्या, कब, कहाँ आदि।
उदाहरण :-

  • तुम कौन हो ?
  • तुम्हें क्या चाहिए ?ऊपर दिए वाक्यों में “कौन” तथा “क्या” शब्दों का प्रयोग करके किसी व्यक्ति या उस व्यक्ति के बारे में जानने की कोशिश की जा रही है। इसलिए यहां प्रश्नवाचक सर्वनाम हैं।

संबंधवाचक सर्वनाम ( Sambandh vachak sarvnam )

जिन सर्वनाम शब्दों का प्रयोग किसी वस्तु या किसी व्यक्ति का सम्बन्ध बताने के लिए किया जा रहा हो। उस सर्वनाम को सम्बन्धवाचक सर्वनाम कहते हैं।
जैसे कि जो-सो, जैसा-वैसा आदि।

उदाहरण:-

  • जो सोवेगा सो खोवेगा।
  • जैसी करनी वैसी भरनी।

ऊपर बताए गए वाक्यों में “जो-सो”  व  “जैसे-वैसे” शब्दों का प्रयोग करके किसी वस्तु या किसी व्यक्ति में सम्बन्ध बताया जा रहा है। इसलिए यह सम्बन्धवाचक सर्वनाम शब्द है।

इस लेख में सर्वनाम किसे कहते हैं (Sarvnam kise kahate Hai), सर्वनाम के भेद (sarvnam ke bhed), प्रकार, हिंदी में सर्वनाम के बारे में जानकारी (hindi me sarvnam ke baare me jaankari) दी है। यदि जानकारी अच्छी लगी हो तो इसे अपने दोस्तों के साथ शेयर जरूर करे।आगे भी ऐसी जानकारी प्राप्त करने के लिए वेबसाइट को बुकमार्क कर ले।

Click Here For More…..

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Scroll to Top